Article

मुक्ति….

शरीर और आत्मा के अलग हो जाने को मुक्ति नही कहा जा सकता. मुक्ति तो शरीर और आत्मा दोनों के एक साथ मिलकर एक ऐसी राह पर चलने से मिलती है जहाँ मोह और माया का जाल नही फैला होता. मुक्त होने के लिए मरने क...
Read More
Best Selling Books

This Is Not Your Story – A Book By Savi Sharma

"This Is Not Your Story" a Book by Savi Sharma. 197 रिव्युस लिए ये किताब "Bestselling Books की category me 6th No. पर है. 197 रिव्युस वो भी सब के सब पॉजिटिव रेस्पोंस लिए. जिसने भी अब तक ये किताब पढ़ी ...
Read More
Article

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है….

समाज भी बिलकुल एक संस्था के जैसा है. जिसका एक प्रथक अस्तित्व है. जो है तो लेकिन जिसे छुआ नही जा सकता, स्मेल नही किया जा सकता. जैसे एक संस्था या संगठन का कोई प्रॉपर चेहरा नही होता बस एक साख होती है व...
Read More
Article

कैसा रहा मेरा वर्ष 2016.

वर्ष 2016. अब तक का सबसे खराब साल, अगर आप सोच रहे हैं कि मैं ऐसा कुछ कहूँगी तो आप गलत सोच रहे हैं. मेरे लिए 2016 एक Learning Year रहा है. थोडा खट्टा थोडा मीठा, थोडा खुशनुमा, थोडा दुखी करने वाला. जीवन
Read More
Article

कहानी – प्यार भरी …

कोई लेखक या लेखिका जब भी कोई कहानी, कोई नावेल, कोई कविता या कुछ और लिखता है तो वो खुद को पूरी तरह से उस लिखे हुए से कनेक्ट कर लेता है, खासकर कोई कहानी लिखते हुए, मेरी हर कहानी, हर रचना के साथ मेरा ऐ...
Read More
Article

Breakup …..

Would you like to be mine ? he asked .... No .... She replied And the story was ended at the time when he proposed her. Now, they both are strangers, They both are classmates.  ...
Read More
Article

नींद ……

माँ कभी-कभी ख्वाब की तरह लगती हैं, अधुरा सा एक ख्वाब, जो सिर्फ एक ख्वाब है, हकीक़त होना जिसकी किस्मत में नही शायद .... जिंदगी के 14 साल न जाने कहाँ चले गये, पीछे मुड़कर देखो तो बस पेड़ो पर कांटे ही ...
Read More
Article

अनेक को एक बनाना होगा …..

बहुत अच्छा सवाल है ये कि महिलाये आखिर क्या करे कि इस घिनोने समाज में खुद को सुरक्षित रख सके ? इस सवाल का जवाब एक या दो लाइनो में लिखना बहुत मुश्किल है (मेरे लिए तो बहुत मुश्किल है औरो का पता नही) क्यो
Read More
Article

चक्रव्यूह ……

महाभारत में देखा था अभिमन्यु को चक्रव्यूह में फंसते हुए, एक वीर योधा होने के बावजूद भी वह चक्रव्यूह को भेद नही पाया, हर संभव प्रयास किया मगर असफल रहा, अंत में मृत्यु को प्राप्त होकर ही उस चक्रव्यूह ...
Read More